January 20, 2022

स्वामी बालकृष्ण पुरी लॉ कालेज में मनाया गया विश्व मानवाधिकार दिवस

50 Views

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में डा.प्रदीप शर्मा तथा विशिष्ट अतिथि प्राचार्य डी के मिश्रा रहे..

रायगढ़ :- शहर में आज विश्व- मानवाधिकार दिवस के दिन अलग- अलग स्थानों में कई तरह के कार्य्रकम आयोजित किए गए। इस क्रम में शहर के हृदय स्थल महात्मा गांधी चौक पर स्थिति स्वामी बालकृष्ण पूरी विधि महाविद्यालय रायगढ़ में भी एक विशेष कार्यक्रम आयोजित किया गया। यहां मुख्य अतिथि के रूप में जिले के जाने माने शिक्षा विद डॉ प्रदीप शर्मा तथा विशिष्ट अतिथि के रूप में डी के मिश्रा प्राचार्य उपस्थित हुए।

कार्यक्रम ला कालेज भवन में दोपहर 12 बजे से शुरू हुआ जो करीब ढाई घण्टे अर्थात 2 बजकर 30 मिनट में सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम की शुरुवात करते हुए मुख्य अतिथि महोदय डाक्टर शर्मा ने मानवाधिकार विषय में अपने विचार रखे फिर विशिष्ट अतिथि महोदय भी सभा को सम्बोधित किया।

दोनों महानुभावों ने अपने उद्बोधन में कहा कि मानवाधिकार दिवस की पहली सार्वभौम वैश्विक घोषणा संयुक्त राष्ट्र की तरफ से आज ही के दिन 10 दिसंबर 1948 को की गई थी। वहीं संयुक्त राष्ट्र महासभा के अंगीकरण और उद्घोषणा का सम्मान करने के लिए आज की तिथि का चयन किया गया था।

जबकि भारत देश मे मानवाधिकार दिवस की औपचारिक स्थापना 4 दिसंबर 1950 को महासभा की 317 वीं पूर्ण बैठक में हुई थी। तब महासभा ने संकल्प 423 (V) की घोषणा की थी। जिसमें सभी सदस्य राज्यों और किसी भी अन्य इच्छुक संगठनों को इस दिन को मनाने के लिए आमंत्रित किया गया था।

इस दिन को आम तौर पर उच्च-स्तरीय राजनीतिक सम्मेलनों और बैठकों के अलावा सांस्कृतिक कार्यक्रमों और मानवाधिकारों के मुद्दों से संबंधित प्रदर्शनियों द्वारा चिह्नित किया जाता है। इसके अलावा परंपरागत रूप से 10 दिसंबर को मानवाधिकारों के क्षेत्र में विशिष्ट कार्य करने वालों को संयुक्त राष्ट्र पुरस्कार और नोबल शांति पुरस्कार से भी सम्मानित किया जाता है।

अतिथीय भाषण के पश्चात कार्यक्रम में उपस्थित प्रतिभागियों ने भी मानवाधिकार के विषय पर सारगर्भित भाषण दिया।

आज के कार्यक्रम में पोस्टर व भाषण प्रतियोगिता भी रखी गई थी। जिसमें भाषण प्रतियोगिता में प्रतिभागी प्रथम स्थान पर सौरभ मिश्रा
दूसरे स्थान पर तथा दीक्षा पाटिल एवं
राघव रतेरिया तृतीय स्थान पर रहे।

जबकि पोस्टर प्रतियोगिता में
पूजा गिरी ने प्रथम स्थान हासिल किया। वही दूसरे स्थान पर काजल शुक्ला ,सीमा प्रधान एवं तीसरे स्थान पर तीन प्रतिभागी अभिनव शर्मा,ज्योति निराला सुरुचि द्विवेदी रहे।

इस कार्यक्रम में बाकी सभी प्रतिभागियों को उनके प्रदर्शन के आधार पर प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया। जबकि उत्कृष्ठ प्रदर्शन करने वाले प्रतिभागियों को शील्ड एवं प्रशस्ति पत्र दोनों से सम्मानित कियॉ गया।

आज के कार्यक्रम में मुख्य अतिथि डॉ प्रदीप शर्मा, प्राचार्य श्री डीके मिश्रा, एस के रावत,जयंत मिंज,प्रतिक सिन्हा,अपूर्वा गवेल एवं अंकिता ठाकुर मौजूद रहे।

Author