October 22, 2021

शासकीय उचित मूल्य की दुकान में संचालनकर्ता की मनमानी

127 Views

रायगढ़ :- सारंगढ़ क्षेत्र अंतर्गत आने वाले ग्राम पंचायत जेवरा में शासकीय उचित मूल्य दुकान में संचालनकर्ता के द्वारा सरकार को चूना लगाया जा रहा हैं आपको बता दे शासकीय उचित मूल्य दुकान संतोषी महिला स्व.सहायता समूह जेवरा में 23.76 क्विंटल चावल और शक्कर 6.07 क्विंटल शेष स्टॉक में हैं जिसे उसी ने अपने घोषणा पत्र में अवलोकन किया हैं

जिसके आधार पर शेष स्टॉक 23.76 क्विंटल और शक्कर 6.07 क्विंटल हैं लेकिन सवाल यह उठता है कि आखिरकार ये 23.76 क्विंटल चावल और शक्कर 6.07 क्विंटल स्टॉक में आया कहा से कही ऐसा तो नहीं कि वितरणकर्ता के द्वारा खुद के लाभ कमाने के मंसा से राशनकार्डधारियों को राशन वितरण करते समय कटौती तो नहीं किया जा रहा हैं या फिर माह में सिर्फ 8 या 10 दिन ही वितरण कर बाकी के राशन को बंदरबाट तो नहीं किया जा रहा है कहीं सरकार को एक बड़ी रकम से चुना लगाने के चक्कर मे तो नहीं संचालक ऐसा ही मामला ग्राम पंचायत खैरा छोटे और बंजारी में भी हुआ बीते माह खैरा छोटे और बंजारी के उचित मूल्य की दुकान को संतोषी महिला स्व. सहायता समूह जेवरा में संलग्न किया गया था लेकिन संचालनकर्ता प्रभु निराला बेचारा क्या करता आदत से जो मजबूर हैं खैरा छोटे में मृत लोगो के नाम से भी आहरण कर मस्त मगन हैं और बाहर मजदूरी करने गए प्रवाशियों का राशन भी आहरण कर खुद को लाभ पहुँचाने में कोई कसर नहीं छोड़े हैं वही मामला की शिकायत एवं खबर प्रकाशित होने के बाद अधिकारियों ने संज्ञान लेते हुए खैरा छोटे से संलग्न संतोषी महिला स्व. सहायता समूह को तत्काल पृथक कर दिया गया

ऐसा ही मामला बंजारी में भी हुआ

जिसकी शिकायत सरपंच एवं पंच सहित ग्रामीणों ने किया इस संबंध में जब हमारे मीडिया टीम ने संतोषी महिला स्व. सहायता समूह के संचालनकर्ता से बात करना चाहा तो संचालनकर्ता प्रभु निराला के द्वारा बोला गया की मैं नहीं जानता समूह के महिला लोगो से पूछ लो मुझे बोलते हैं तब मैं बैठता हूं और गोलमोल जवाब देकर फोन काट दिया गया।

Author