May 17, 2022

चुनावी हार से बौखलाये 5 लोगों ने किया वैवाहिक कार्यक्रम में गाली-गलौच और मारपीट…! सरपंच,पंच,ग्रामीणों समेत जिला पंचायत सदस्य वैजंती नंदराम लहरे ने की थाने में लिखित शिकायत…

251 Views

कोसीर थाना क्षेत्र के गुंडा तत्वों से जनप्रतिनिधि भी परेशान

चुनावी रंजिश को लेकर गुंडा तत्वों से अप्रत्याशित घटना को अंजाम दिलाने का कोशिश,वैवाहिक कार्यक्रम के दौरान जानबूझकर मारपीट-गाली गलौज की घटना कारित की गई..

जिले के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के अलावा थाना-प्रभारी से इन असमाजिक तत्वों के विरूद्ध कड़ी कारवाही की मांग…

सारंगढ़/कोसीर :- जिले के सबसे बड़े ग्रामीण थाना क्षेत्र कोसीर में इन दिनों असमाजिक तत्वों और आपराधिक गतिविधियों में संलिप्त लोगों का अच्छा खासा प्रभाव देखा जा रहा है। स्थानीय लोगों का कहना है कि इसके पीछे कमजोर पुलिसिंग और एक पूर्व राजनीतिज्ञ का अवैध संरक्षण मुख्य कारण है। क्षेत्र में अवैध शराब की बिक्री,सट्टा-जुआ के अलावा अन्य गौरक़ानूनी काम जोरों पर है। नशे में धुत युवकों की टोली विभिन्न तरह के आपराधिक घटनाओं को बेख़ौफ़ अंजाम दे रहे हैं।

ताज़ा मामला इस तरह के भयावह वातावरण का जीता जागता नमूना है। जिसकी लिखित शिकायत अंचल की लोकप्रिय जिला पँचायत प्रतिनिधि ने पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों के अलावा थाना प्रभारी कोसीर से की है।
हालांकि इस मामले में उनका स्पष्ट तौर पर कहना है कि क्षेत्र में कमजोर पुलिसिंग की वजह से न केवल आपराधिक घटनाएं बढ़ी है बल्कि थाना क्षेत्र में आने वाले कई गांवों में भय का माहौल बना हुआ है। थाना प्रभारी कोसीर जयमंगल पटेल ऐसी घटनाओं की सूचना मिलने पर तत्तकाल प्रभावी कार्यवाही करने के बजाए एक सम्मानीय जन प्रतिनिधि को यह कहते है कि मैडम आप मुझे बताने के बजाए 112 को फोन कीजिये। श्रीमती लहरे की माने तो एक निर्वाचित जन प्रतिनिधि के प्रति थाना प्रभारी का व्यवहार अगर ऐसा है तो आम जनों की सुरक्षा को लेकर वे कितने गंभीर होंगे यह सोचने का विषय है।।

बहरहाल घटना के बारे में शिकायत कर्ता महिला जनप्रतिनिधि श्रीमती वैजयंती नंन्दू लहरे(जिला पंचायत सदस्य) कहती है कि घटना 6 फ़रवरी 2022 की है। परन्तु घटना के पीछे का कारण चुनावी रंजिश है। विरोधी पार्टी के लोगों की असामाजिक गतिविधियों से त्रस्त आकर लोगों ने इस बाहर उन्हें बाहर का रास्ता क्या दिखाया,वे लोग अब खुलकर वाद-विवाद और मारपीट करने पर उतारू हो गए है। जबकि इनके द्वारा पूरे चुनावी दौर में लोगो पर अपना प्रभाव जमाने की नीयत से तमाम ऐसे हथकंडे अपनाए गए जो प्रतिबंधित होने चाहिए थे। परन्तु एक स्थानीय राजनीतिज्ञ और पुलिस के संरक्षण में इन्होंने बढ़े मनोबल के साथ सभी तरह के अवैधानिक कार्य किए इसके बावजूद उन्हें पराजय का मुंह देखना पड़ा। यहीं से मन में विद्वेष का भाव लिए विरोधी पक्ष के लोग इतनी नीचता पर उतर आए है,कि उंन्होने यह मंशा बना ली है कि किसी तरह के आवश्यक विवाद में उलझाकर मेरे पति श्री नन्द राम लहरे और ग्राम पंचायत भाठागांव से नवनिर्वाचित महिला सरपंच मेरी छोटी बहन पूजा लहरे की सामाजिक प्रतिष्ठा और मान मर्यादा को धूमिल कियॉ जाएं।

अपने शिकायत पत्र में श्रीमती लहरे लिखती हैं कि चूंकि विरोधी पक्ष के लोग जो अंचल के एक नकारे हुए,असफल सत्ताधरी दल के नेता के संरक्षण में पूरी तरह से बे-रोक-टोक होकर विभिन्न आपराधिक कार्यों को अंजाम देते रहे हैं अतः उनसे क्षेत्र के ज्यादातर लोग भयाकुल रहते हैं। इन लोगों में कुलदीप खूंटे आत्मज भजो राम खूंटे उम्र 40 वर्ष,प्रेम चंद लहरे आत्मज आ.मनीराम लहरे दोनों निवासी भाठागांव,संदीप,लोकेश और अयज बनज तीनों पिता चंद्रिका बनज तीनो निवासी कोसीर के नाम प्रमुख हैं।

इनके विरुद्ध चुनावी रंजिश को लेकर 6 फरवरी 2022 को गाँव मे रामनरेश सुमन के घर वैवाहिक कार्यक्रम के दौरान सुनियोजित ढंग से शराब पीकर अनावश्यक विवाद करते हुए मारपीट और गाली गलौज करने के कृत्य हेतु श्रीमती लहरे ने पुलिस से उचित दंड दिए जाने की मांग की है।

इसके अलावा उन्होंने अपने शिकायत पत्र में यह भी लिखा है,कि उक्त असमाजिक लोगों (जो हमेशा आठ दस की झुंड में देशी कट्टे जैसे घातक हथियारों से लेश रहते है)ने अपनी दबंगई के दम पर ग्राम पंचायत भवन में सालों से कब्जा जमाकर राशन दुकान का अवैध संचालन कर रहे हैं जिसे पुलिस और प्रशासन के सहयोग से पूरी सख्ती के साथ अविलंब इनसे खाली कराया जाना जरूरी है।

इस मामले को लेकर कोसीर थाना प्रभारी जयमंगल पटेल ने बताया कि दोनों पक्षों के द्वारा शिकायत दर्ज कराया गया है। जांच के बाद उचित कार्यवाही की जायेगी।

Author