December 6, 2021

एक से 10 लाख की जनसंख्या वाले शहरों की रैंकिंग में अम्बिकापुर देश का दूसरा स्वच्छ शहर

46 Views

अम्बिकापुर :- स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 के परिणाम घोषित हो गया है। अंबिकापुर को एक लाख से 10 लाख की आबादी वाले शहरों में लगातार चार बार अंबिकापुर नंबर वन रहा है इस बार एक पायदान खिसक गया और अपनी कैटेगरी में देश का दूसरा स्वच्छ शहर बना है।ओवरआल कैटेगरी में अंबिकापुर शहर छठवें स्थान पर है। वाटर प्लस की रैंकिंग में अंबिकापुर में सीवरेज नेटवर्क सिस्टम नहीं होने के कारण सीधे 250 अंक कट गए जिसका बड़ा नुकसान हुआ है। कुल 6000 के सर्वेक्षण अंकों में 5148 अंक अंबिकापुर को मिले हैं। बता दें कि अंबिकापुर शहर एक लाख से तीन लाख की आबादी वाले शहरों में वर्ष 2017 में पहली बार सबसे स्वच्छ शहर का अवार्ड मिलना शुरू हुआ था। इस बार भी पूरी उम्मीद थी कि छोटे शहरों में अंबिकापुर सभी को पीछे छोड़ेगा पर कुछ कमियां रह गईं जिससे नुकसान हुआ। अब तक लगातार चार बार वर्ष 2017, वर्ष 2018 वर्ष 2019 में व 2020 में एक लाख से तीन लाख की आबादी वाले छोटे शहरों में अंबिकापुर सिरमौर रहा है। गत वर्ष के सर्वेक्षण में तो अंबिकापुर नगर निगम को फाइव स्टार रेटिंग भी मिल चुका है।ओडीएफ प्लस प्लस भी इस शहर को मिल चुका है। अंबिकापुर का दावा पांचवी बार काफी मजबूत माना जा रहा था।

सीवरेज वाटर का काम हुआ पर नेटवर्क आसान नहीं

अंबिकापुर शहर में सीवरेज वाटर का काम बेहतर हुआ था। गत वर्ष भी इसी ने वाटर प्लस में सर्वाधिक अंक मिला था पर इस बार सीवरेज वाटर नेटवर्क न होने के कारण बड़ा नुकसान हुआ। सीवरेज वाटर के लिए पाइप लाइन के माध्यम से नेटवर्क जिस शहर ने बनाया था उसे अंक मिले पर अंबिकापुर शहर में यह आसान नहीं था।

हर बार मेरिट आना आसान नही,फिर करेंगे मेहनत: महापौर

अंबिकापुर के महापौर डा. अजय तिर्की ने कहा कि हम लगातार मेहनत कर रहे हैं। अपने स्थान को बरकरार रखना आसान नहीं होता। इस बार भी हमें उम्मीद थी पर कुछ तकनीकी दिक्कतों से हम पिछड़े। फिर भी हमें कई कैटेगरी में अवार्ड मिले हैं। हर बार मेरिट आना आसान नहीं होता। आगे और मेहनत करेंगे और सफलता मिलेगी।

Author