December 6, 2021

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने विधायक से लगाई गुहार हिंदी माध्यम स्कूलों का अस्तित्व बचाने

43 Views

पत्थलगांव :- अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के जिला संयोजक गुलशन पाण्डे के नेतृत्व में छात्रों का एक दल सोमवार को स्थानीय विधायक एवं छत्तीसगढ़ जनजाति सलाहकार परिषद के उपाध्यक्ष रामपुकार सिंह से मिलकर बालक हायर सेकेण्डरी स्कूल हिंदी माध्यम पत्थलगांव को यथावत रखने की मांग की। संगठन के सदस्यों ने विधायक से निवेदन किया है कि शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय पत्थलगांव को स्वामी आत्मानन्द शासकीय उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में परिवर्तित किया गया है जो प्रथम पाली में संचालित है। इसी प्रकार द्वितीय पाली में हिंदी माध्यम का बालक शाला संचालित हो रहा है इस विद्यालय में वर्तमान में कला, वाणिज्य, विज्ञान और कृषि संकाय के 500 से अधिक विद्यार्थी अध्ययनरत हैं, जो पत्थलगांव के ग्रामीण क्षेत्रों से आते हैं। छात्र संगठन के सदस्यों ने बताया कि लोक शिक्षण संचालनालय छत्तीसगढ़ का पत्र के द्वारा जिला शिक्षाधिकारी को आदेशित किया गया है कि वे शिक्षकों से स्थानान्तरण विकल्प प्राप्त कर उच्च कार्यालय को भेजें। इससे प्रतीत होता है कि आगामी समय मे हिंदी माध्यम के विद्यालय को बंद कर दिया जाएगा। जो किसी भी अवस्था मे स्वीकार्य नहीं है। चूंकि इस विद्यालय में पढ़ने वाले अधिकांश विद्यार्थी गरीब परिवार से आते हैं जिनको विद्यालय बंद होने का भय बना हुआ है। यहाँ के बच्चे अपने भविष्य को लेकर सशंकित हैं। उन्होंने इस संबंध में त्वरित कार्रवाई करते हुए जिला प्रशासन द्वारा चलाए जा रहे स्थानांतरण को तत्काल रोकते हुए हिंदी माध्यम के विद्यालय बंद नहीं होने का आदेश प्रसारित किया जाने की मांग की है। जिससे यहां अध्ययनरत बच्चे निश्चिंत होकर विद्याध्ययन कर सकें। जिस पर विधायक रामपुकार सिंह ने हिंदी माध्यम का विद्यालय बंद नही होने का आश्वासन देते हुए उचित पहल करने की बात कही। इस अवसर पर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के जिला संयोजक गुलशन पाण्डेय, नगर मंत्री वीरेंद्र यादव, क्रीड़ा प्रमुख रोहित सिंह, जनजातीय प्रमुख नीलेश सिदार, नगर उपाध्यक्ष भूपेंद्र यादव, नगर कार्यकारिणी सदस्य विकास रजक,संदीप रावत व सोनू ठाकुर शामिल रहे।

Author